डॉ॰ सूर्या बाली "सूरज"

यकीं मुझको है तुम आओगे इक दिन

header photo

पल्स पोलियो का अभियान

सफल बनाओ सब मिल करके, पल्स पोलियो का अभियान।

पूर्ण करो इस महा यज्ञ को, दे करके योगदान महान।

            पोलियो का उन्मूलन करना, अब कर्तव्य हमारा है,

            अब हम सबने मिलकर के, इस पोलियो को ललकारा है।

देकर के वैकसीन बच्चों को, ये अभिशाप मिटाना है,

पल्स पोलियो प्रतिरक्षण अभियान को सफल बनाना है।

            पोलियो विषाणु जनित रोग, पैरों की शक्ति घटा देता है।

            बचपन मे यदि हो जाये, जीवन भर पंगु बना देता है।

दूषित भोजन पानी के जरिये मानव तक आता है,

घुसता है आहरनाल से , तंत्रिका तंत्र को खाता है।

            चढ़ता है बुखार तेज़ और अंग शिथिल पड़ जाते हैं,

            पक्षाघात हो जाता है, बच्चे लंगड़े हो जाते हैं।

कोई विशेष इलाज़ नहीं,बस मात्र बचाव तरीका है,

पूर्ण सुरक्षा के लिए केवल पोलियो का टीका है।

            पोलियो टीकाकरण को ख़ुद समझें औरों को बताएं,

            पाँच साल तक के बच्चो को, पोलियो ड्राप अवश्य पिलाएं।

इस टीके से बच्चों को कोई हानि नहीं होती है,

जो माँ ड्रॉप नहीं पिलवाती वो जीवन भर रोती हैं।

            “सूरज” पूरे जनमानस को, ये संदेश सुनाना है,

            अपने प्यारे भारत को, पोलियो से मुक्त कराना है।।

                                                              डॉ॰ सूर्या बाली “सूरज”

Go Back

Comments for this post have been disabled.